Breaking News
Home / ताजा खबरें / धानुका इनोवेटिव एग्रीकल्चर अवार्ड के पहले संस्करण के लिए 4,500 से अधिक नामांकन प्राप्त हुयेे

धानुका इनोवेटिव एग्रीकल्चर अवार्ड के पहले संस्करण के लिए 4,500 से अधिक नामांकन प्राप्त हुयेे

संवाददाता (दिल्ली):- भारत की एक प्रमुख कृषि रसायन कंपनी धानुका एग्रीटेक लिमिटेड को ‘धानुका इनोवेटिव एग्रीकल्चर अवार्ड‘ (डीआइएए) के पहले संस्करण के लिये पूरे भारत के किसानों से 30 श्रेणियों में 4,600 नामांकन प्राप्त हुये हैं। सबसे अधिक नामांकन उत्तर प्रदेश (966 नामांकन) से हासिल हुये, उसके बाद मध्य प्रदेश (780) और महाराष्ट्र (584) का स्थान रहा।पुरस्कार की घोषणा जनवरी 2018 में की गई थी। इसका उद्देश्य देश भर में अपनाये जा रहे खेती के खोजपरक तरीकों को पहचानना और प्रोत्साहित करना है।

इसके लिये किसानों/डीलरों और एग्री-इंस्टीट्यूट्स/वैज्ञानिकों/केकेबी (कृषि विज्ञान केन्द्र)/शोध संस्थानों/एसएयू (स्टेट एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटीज)/सीएयू (सेंट्रल एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटीज) एनजीओ (गैर-सरकारी संगठनों)/एसएचजी (सेल्फ-हेल्प ग्रुप्स)/पंचायतों इत्यादि से 30 श्रेणियों में नामांकन आमंत्रित किये गये, जिन्होंने खेती के तरीकों में नवाचार के नजरिये से बेमिसाल योगदान दिया है और इस तरह उनकी पैदावार एवं आय बढ़ी है |

नामांकन के लिये मिले शानदार प्रतिसाद पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये धानुका एग्रीटेक लिमिटेड के चेयरमैन आर.जी. अग्रवाल ने कहा, ‘‘इस पुरस्कार के लिये हमें पूरे भारत से जो प्रतिसाद मिला है, उससे हम बेहद खुश हैं। उत्तर प्रदेश से सबसे अधिक नामांकन प्राप्त हुये, जो यह दिखाता है कि यूपी के किसान प्रगतिशील हैं और खेती के नये तरीकों को अपना रहे हैं। यह पुरस्कार हमारी पहल है, जिसके माध्यम से हमारा उद्देश्य खेती के नवीनतम तरीकों को सम्मानित करना है।

हमें विश्वास है कि इससे हमारे किसान दोस्त प्रोत्साहित होंगे और फसल उत्पादकता को बेहतर बनाने के लिये अपने नवीनतम तरीकों के बारे में बतायेंगे और दूसरों को प्रेरित भी करेंगे।
धानुका एग्रीटेक लिमिटेड कृषि समुदाय की सेवा करने में अग्रणी है और वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मिशन में सहयोग करने के लिये काम कर रही है। विजेताओं को निजी तौर पर एक औपचारिक संचार के माध्यम से सूचित किया जायेगा और पुरस्कार कार्यक्रम में उन्हें आमंत्रित किया जायेगा।

About Mohan Bhowmik

Check Also

कवि जगन्नाथ चकवर्ती को जिलाधिकारी ने किया सम्मानित

पीलीभीत,ब्यूरो (अरुण मिश्रा):-जिलाधिकारी  डा0 अखिलेश कुमार मिश्रा द्वारा दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग उ0प्र0 के सर्वश्रेष्ठ सृजनशीलता दिव्यांग …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *