Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / पीलीभीत-गांव गांव में लार्वीसाइड का कराया जाये छिड़काव जिलाधिकारी

पीलीभीत-गांव गांव में लार्वीसाइड का कराया जाये छिड़काव जिलाधिकारी

पीलीभीत,(अरुण मिश्रा):- 23/09/2018 पीलीभीत जिलाधिकारी डा0 अखिलेश कुमार मिश्रा एवं मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 सीमा अग्रवाल महोदया की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक गांधी सभागार पीलीभीत में सम्पन्न हुई। जिलाधिकारी महोदय ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एवं जिला विद्यालय निरीक्षक महोदय को निर्देशित किया कि समस्त विद्यालय में एक अध्यापक नामित कर शिक्षक द्वारा डेंगू एवं अन्य वेक्टर जनित रोगों के बचाव एवं नियन्त्रण हेतु सम्बन्धित जानकारी उपलब्ध करायें।

उन्होंने सभी व्यक्ति पूरी आस्तीन के कपडें पहने और विद्यालयों में मलेरिया से सम्बन्धित रैलियों का आयोजन किया जाये। विद्यालय में अनुपस्थित बच्चों में यदि कोई ज्वर से पीड़ित है तो उसकी सूचना मुख्य चिकित्साधिकारी महोदया को तुरन्त उपलब्ध कराये। उन्होंने अधिशासी अभियन्ता जल निगम को निर्देशित किया कि ओवर हैड टैंक की नियमित सफाई कराई जाये टंकियों के ढक्कन एयर टाईट बनाये जाये तथा पाइप लाइन बिछाते समय गढ्ढों को तुरन्त बन्द करवा दिया जाये ताकि जल भराव न होने पाये।

जिलाधिकारी महोदय ने नगर स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया कि रोग वाहक मच्छरों के पैदा होने की परिस्थितियों को नगण्य करने हेतु जनसामान्य को जागरूक किया जाये, तथा सफाई एवं कूड़ा निस्तारण की उचित व्यवस्था की जाये। नालियों में एकत्रित जल का बहाव सुनिश्चित कराया जाये, मलिन बस्तियों में अत्यधिक प्रजनन स्थल जल संग्रहित होने के कारण बहुतायत पाये ऐसी बस्तियों व ग्रामों में फोगिंग कराया जाये।
महोदय द्वारा स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया गया कि चिकित्सालय परिसर एवं उसके आस पास आवासीय भवनों में जल भराव की स्थिति उत्पन्न न हों। चिकित्सालयोें में 10 बेड का मच्छरदानी युक्त आइसोलेन वार्ड डेंगू रोगियों के आरक्षित रखे जाने एवं वार्ड के दरवाजों एवं खिडकियों में जाली लगवाई जाये। बुखार से पीड़ित रोगियों को सहायता उपलब्ध कराते हुये रोगी व उनके तीमारदारों को बचाव एवं नियन्त्रण तथा स्वास्थ्य सुविधायें उपलब्ध कराई जाये। डेंगू जांच की पुष्टि हेतु रक्त का नमूना सेन्टीनल सर्विलेंस लैब को रोगी का पूरा नाम, पता आदि ले लें जिससे की रोगी की देखभाल की जा सके।
कर्मचारियों द्वारा लार्वीसाइडल का गांव गांव छिडकाव कराया जाये, जिसे की लोगो मलेरिया से बच सके। डेंगू एंव चिकुनगुनिया रोगियों का ट्रीटमेन्ट प्रोटोकाॅल के अनुसार राजकीय एवं प्राइवेट अस्पतालों में कराया जाये। उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित किया कि जल भराव वाले स्थानों में मिट्टी डलवाई जाये तथा नालियों एवं नालों में जल बहाव को अवरोधित न होने दिया जाये, ग्राम्य स्वास्थ्य एवं स्वच्छता समिति के माध्यम से भी फागिंग और लार्वीसाइडल का छिडकाव कराया जाये|
तथा हैण्ड पम्प एवं कुआं के आस पास जल एकत्रित न होने दें तथा ग्रामों में नालियों की साफ सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाये।  बैठक में अपर जिलाधिकारी श्री बृज किशोर, नगर मजिस्टेªट, अपर चिकित्साधिकारी, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका, जिला पंचायत राज अधिकारी सहित जिला स्तरीय अधिकारी एवं स्वास्थ्य विभाग के सी0एस0सी0/पी0एस0सी0 के डाक्टर उपस्थित रहे।

About Mohan Bhowmik

Check Also

हरियाणा सरकार के दस्ते को बेरंग वापिस लौटना पड़ा

कालका,(सचिन बराड़):-सूरजपुर सुखोमाजरी बाईपास को बनाने के लिए हरियाणा सरकार द्वारा लेबर कालोनी के सेकड़ो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *